Kya He Corona virus - कोरोना वायरस क्या है ? | What is Corona virus (Covid-19) Explain in Hindi/English - DainikExam.com Dainik Exam: Latest Govt Jobs, Sarkari Result, Online Form, Sarkari Admit Cards, Free Job Alert, Sarkari Exam 2020

अपडेट सबसे पहले

Post Top Ad

Kya He Corona virus - कोरोना वायरस क्या है ? | What is Corona virus (Covid-19) Explain in Hindi/English


Corona virus kya hai - कोरोना वायरस क्या है

कोरोना – यह नाम अब किसी के भी लिए अनजाना नहीं है । चीन से शुरु हुआ यह वायरस अब दुनिया के अधिकतर देशों में फैल चुका है ।
COVID-19 नए कोरोनावायरस के कारण होने वाली बीमारी है जो दिसंबर 2019 में चीन में सामने आई थी।

COVID-19 लक्षणों में खांसी, बुखार और सांस की तकलीफ शामिल हैं। COVID -19 गंभीर हो सकता है, और कुछ मामलों में मौत का कारण बन सकता है।
Corona virus कोरोना परिवार का सबसे नया सदस्य है इसलिए इसके नाम के साथ Novel शब्द जोड़ा गया अर्थात Novel Corona virus (2019-nCoV) नाम से जाना गया.हाल ही में WHO ने इसका नाम COVID-19 रखा है क्यों कि इसका नाम इसके सरंचना के आधार पर पड़ा है. इस वायरस के चारों तरफ मुकुट (Crown) जैसी सरंचना होती है अर्थात इस वायरस में इर्द-गिर्द उभरे हुए काँटों जैसे ढाँचों को इलेक्ट्रान सूक्षमदर्शी में देखने पर मुकुट जैसा आकार दिखता है जिसके कारण इसका नाम Corona virus पड़ा है.
Corona virus kya hai - कोरोना वायरस क्या है

भारत भी इससे बच नहीं पाया है, बल्कि जैसे-जैसे समय बीत रहा है, इस वायरस का खतरा बढ़ता ही जा रहा है । भारत में यह सक्रमण पहली बार केरल से सामने आया था । पीआईबी की मानें तो भारत में पहली बार कोरोना के शुरुआती केस केरल से सामने आए थे और तब तीन लोग इससे पॉजीटीव पाए गए थे लेकिन उन तीनों लोगों की जांच की गई और आइसोलेशन के बाद उन्हें ठीक करके भेज दिया गया । इसके बाद लगातार कईं मामलों की पुष्टि हो चुकी है और जो लोग संदिग्ध पाए गए हैं उन्हें निगरानी में रखा गया है । 

भारत के जिन शहरों से यह मामले सामने आए हैं, उनमें सबसे प्रमुख हैं – दिल्ली, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, केरल और लद्दाख ।
नया कोरोनोवायरस (Covid-19) एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकता है। इसका निदान प्रयोगशाला परीक्षण से किया जाता है।
अभी तक कोई कोरोनावायरस वैक्सीन नहीं है। रोकथाम में लगातार हाथ धोना, आपकी कोहनी के मोड़ में खाँसी और बीमार होने पर घर में रहना शामिल है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार, नाक या मुंह से छोटी बूंदों के माध्यम से खांसी या छींकने के माध्यम से वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। यह कई दिनों तक अधिकांश सतहों पर बना रह सकता है, इसलिए सीधे वायरस को फैलाने के अलावा, आप किसी ऐसी चीज को छूने से संक्रमित हो सकते हैं जो दूषित हो गई है और फिर अपनी नाक, मुंह या आंखों को छू रही है। कुछ सबूत हैं कि संक्रमित व्यक्ति के मल में वायरस के कण संपर्क के माध्यम से रोग को प्रसारित कर सकते हैं, लेकिन यह अपुष्ट रहता है।


Post Top Ad



www.DainikExam.com